Home / राजस्थान / सवाई माधोपुर / शराब की दुकान को लेकर कॉलोनी निवासियों ने दिया एसडीएम को ज्ञापन

शराब की दुकान को लेकर कॉलोनी निवासियों ने दिया एसडीएम को ज्ञापन

शराब की दुकान को लेकर कॉलोनी निवासियों ने दिया एसडीएम को ज्ञापन 

गौरतलब है कि गंगापुर सिटी में चल रही शराब माफिया और शराब के ठेकेदारों की मनमानियां चरम सीमा पर पहुंच गई है।  

जहां शास्त्री पार्क के पास sc-st मोहल्ले में जो कि एक शांतिपूर्ण कॉलोनी है, कॉलोनी में लगभग 600 से ज्यादा लोग रहते हैं और वही मुख्य रास्ते पर अवैध रूप से देसी शराब की दुकान खोली जा रही है। उक्त दुकान के सामने से होकर वाले की बहन, बेटियां, औरतें मंदिर जाती हैं । 

और सबसे खास और अहम बात शराब की दुकान के पास कई शिक्षण संस्थान, कोचिंग सेंटर और पार्क भी स्थित है। साथ ही कई मंदिर और मस्जिद भी स्थित है ।

उक्त दुकान को खोलने से मोहल्ले का वातावरण खराब होने की पूर्णतया संभावना है और यदि यह दुकान खुलती है तो निश्चित रूप से शराबियों द्वारा मोहल्ले की औरतों, बहन, बेटियों और स्कूल से आने जाने वाली छात्र-छात्राओं के साथ छेड़खानी की संभावना पूर्ण रूप से बनती है। 

कॉलोनी में पढ़ने वाले बच्चों पर किस प्रकार का असर होगा यह एक सोचनीय बिंदु है।

उक्त दुकान खोलने से कॉलोनी की औरतों में लोगों में अत्यधिक आक्रोश बना हुआ है और कॉलोनी वासियों का कहना है यदि प्रशासन ने कॉलोनी वासियों की पीड़ा नहीं जानी तो निश्चित रूप से कॉलोनी की औरतें और कॉलोनी वासी कल प्रातः 10:00 बजे उक्त दुकान को किसी भी हालत में खुलने नहीं देंगे तथा किसी भी प्रकार की जनहानि या अन्य नुकसान होता है तो उसकी संपूर्ण जिम्मेदारी प्रशासन की होगी।

अब देखते हैं कि प्रशासन इस मामले को गंभीरता से लेता है या फिर ऐसे ही चलता रहेगा।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

महात्मा ज्योति राव फूले की पुण्यतिथि मनाई

महात्मा ज्योति राव फूले की पुण्यतिथि मनाई है  गंगापुर सिटी  सूरसागर गंगापुर सिटी स्थित माली …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *