Home / राजस्थान / भीलवाड़ा / शहर में गंदगी फैलाने वाले व्यक्तियो की अब खेर नही होगा न्यायालय में चालान भीलवाड़ा

शहर में गंदगी फैलाने वाले व्यक्तियो की अब खेर नही होगा न्यायालय में चालान भीलवाड़ा

कॉम्पलेक्स मालिको द्वारा बेसमेंट को पार्किंग स्थल बताने पर कार्यवाही के निर्देश

शहर में गंदगी फैलाने वाले व्यक्तियो की अब खेर नही होगा न्यायालय में चालान 

भीलवाड़ा- मूलचन्द पेसवानी 

भीलवाड़ा नगर परिषद आयुक्त नारायण लाल मीणा की अध्यक्षता में बुधवार को परिषद के समस्त अनुभाग प्रभारी अधिकारियो/कर्मचारियो एवं स्वास्थ्य निरीक्षको की साप्ताहिक बैठक परिषद के सभा भवन में नये साल के पहले बुधवार को आयोजित हुई। बैठक में विभिन्न बिन्दुओ पर विचार विमर्श कर आवश्यक निर्देश दिये गये।

शहर में चल रहे निर्माण कार्यो पर चर्चा की गई। पुर ग्राम मे हो रहे निमार्ण कार्यो पर विशेष ध्यान देने के निर्देश अधिशाषी अभियंता जगदीश सिहं पलसानिया को दिये गये हैं। सभी कार्यो का भौतिक सत्यापन करने के लिए दोनो सहायक अभियंताओ को निर्देश दिये गये एवं अमृत योजना के कार्य करवाने के निर्देश दिये गये।

शहर में बिना स्वीकृति जिन कॉम्पलेक्स मालिको द्वारा बेसमेंट को पार्किंग स्थल बताकर मानचित्र स्वीकृत करा लिया गया, एवं वर्तमान में उनका उपयोग अन्य प्रयोजन हेतु किया जा रहा है। ऐसे कॉम्पलेक्सो पर तुरंत कार्यवाही करने के निर्देश अतिक्रमण प्रभारी खेमसिंह शेखावत को दिये गये हैं। आगामी बैठक से पूर्व अवैध निर्माण की जितनी भी पत्रावलिया लम्बित है। सम्पर्क पोर्टल पर चर्चा की गई जिसमे सभी अनुभाग के प्रभारियो अधिकारियो को सम्पर्क पोर्टल पर दर्ज प्रकरणो का 07 दिवस के भीतर गुणवत्तापूर्वक निस्तारण कर परिवादी को अवगत कराने के निर्देश दिये है, एवं प्रतिदिन अपने अनुभाग से संबंधित प्रकरणो का स्वयं अवलोकन करने के निर्देश दिये है। सम्पर्क पोर्टल प्रभारी अधिकारी पवन नुवाल को निर्देश दिये गये कि एल-1,एल-2,एल-3 पर दर्ज सम्पूर्ण प्रकरणो का संबंधित शाखा प्रभारी से सम्पर्क कर 07 दिवस के भीतर निस्तारण करना सुनिश्चित किया जावें, एवं लम्बित प्रकरणो के संबंध में प्रतिदिन संबंधित प्रभारी अधिकारी से सम्पर्क कर निस्तारण किया जावें। 

शहर मे सफाई व्यवस्था पर अध्यक्ष द्वारा नाराजगी जाहीर करते हुए कहा कि शहर में 1229 सफाईकर्मचारी होते हुए भी शहर की सफाई व्यवस्था समुचित क्यो नही है,। सभी स्वास्थ्य निरीक्षको से पूछा गया कि ऐसी क्या समस्या आ रही है कि जिससे सफाई व्यवस्था माकुल नही हो पा रही है। इस पर स्वास्थ्य निरीक्षको द्वारा बताया गया कि ऑटो टीपर प्रत्येक गली में नही जाने से कचरा समय पर नही उठा रहा है एवं कचरा स्टेंण्डो से कचरा समय पर नही उठ पाता है। इस पर आयुक्त द्वारा सभी ऑटो टीपरो की मॉनिटरिंग हेतु स्वास्थ्य निरीक्षको को अधिकृत कर दिया गया, एवं स्वास्थ्य निरीक्षको द्वारा भी ऑटो टीपर चालको की उपस्थिति प्रमाणित की जायेगी। सभी ऑटो टीपर में जीपीएस सिस्टम लगा दिया गया है। इसकी मॉनिटरिंग गैराज प्रभारी पुष्पेन्द्र बैरागी को करने हेतु निर्देश दिये गये। सभी स्वास्थ्य निरीक्षको को निर्देश दिये गये कि स्वच्छता एप पर आने वाली शिकायतो का तत्काल प्रभाव से निस्तारण कर फॉटो अपलोड किया जावे, एवं डिवाईडरो पर जमीं मिट्टी को हटाने व सफाईकर्मचारियो की उपस्थिति उनकी डयूटी बीट के अनुसार ही हो यह सुनिश्चित कर लेवे, बीट पर कोई भी कर्मचारी अनुपस्थित मिलने पर संबंधित जमादार एवं स्वास्थ्य निरीक्षक द्वारा अनुशासनात्मक कार्यवाही की जावेगी, जिसके लिए वे स्वयं व्यक्तिशः जिम्मेदार होंगे। शहर में गंदगी फैलाने वाले व्यक्तियो के विरूद्व न्यायालय में अभियोजन (चालान) पेश किया जायेगा।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

भीलवाड़ा जिला कलेक्टर पहुंचे मृतकों के घर परिजनों को दी सांत्वना, सौंपे सीएम सहायता राशि के चेक

चित्तौड़गढ़-कोटा राष्ट्रीय राजमार्ग दुर्घटना भीलवाड़ा जिला कलेक्टर पहुंचे मृतकों के घर परिजनों को दी सांत्वना, …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *