Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / बहराइच / शहीदों का सपना जब सच हुआ तब हिंदुस्तान मेरा आजाद हुआ
शहीदों का सपना जब सच हुआ तब हिंदुस्तान मेरा आजाद हुआ
शहीदों का सपना जब सच हुआ तब हिंदुस्तान मेरा आजाद हुआ

शहीदों का सपना जब सच हुआ तब हिंदुस्तान मेरा आजाद हुआ

शहीदों का सपना जब सच हुआ तब हिंदुस्तान मेरा आजाद हुआ आइए हम नमन करें उन शूरवीर महारथियों को जिससे भारत गणतंत्र दिवस हुआ एंकर भारत विभिन्न धर्मों का और आस्थाओं संस्कृतियों का देश है और यहां हर दिन कोई ना कोई त्यौहार मनाया जाता है हर धर्म को मानने वाले लोग पूरे उत्साह के साथ अपने पर्व मनाते हैं लेकिन कुछ त्योहार ऐसे भी हैं जो प्रत्येक देशवासियों के लिए महत्वपूर्ण है और पूरे देश में सम्मान और रहने के साथ मनाए जाते हैं इन्हीं त्योहारों के क्रम में 26 जनवरी भी एक ऐसा दिन है जो भारत देश का राष्ट्रीय पर्व है देश का हर नागरिक चाहे वह किसी भी धर्म या जाति समुदाय से संबंध रखता हो जो इस दिन के लिए राष्ट्रप्रेम से ओतप्रोत होकर मनाता है इतिहास की बात करें तो इस दिन भारत का संविधान लागू हुआ था भारत 15 अगस्त 1947 को अंग्रेजों से आजादी मिल गई लेकिन 26 जनवरी 1950 को भारत एक संप्रभु लोकतांत्रिक गणतंत्र घोषित हुआ इस दिन राजधानी से राजपथ पर होने वाले मुख्य आयोजन में भारत की सांस्कृतिक झलक के साथ ही सैन्य शक्ति परंपरागत विरासत की झांकी पेश की जाती है बी/ ओ इसी क्रम में जनपद बहराइच के छत्रपति शाहूजी महाराज नेशनल स्कूल हरिहरपुर नवाबगंज मैं इस गणतंत्र दिवस के अवसर पर विद्यालय में छात्र छात्राओं द्वारा विभिन्न प्रकार की झांकी राष्ट्रगीत एकांकी गीत स्वागत गीत बाल विवाह दहेज प्रथा स्वच्छता व शिक्षा पर मनोहर झांकियां प्रस्तुत की गई इस अवसर पर विद्यालय परिवार के बच्चों सहित अभिभावक गण एवं सैकड़ों गणमान्य लोग उपस्थित रहे

About राजदेव द्विवेदी

Check Also

‍अवसाद से ग्रसित होकर व्यक्ति ने लगायी फासी-बहराइच

‍अवसाद से ग्रसित होकर व्यक्ति ने लगायी फासी। शव देख पड़ोसी की भी हार्ट अटैक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *