Breaking News
Home / राजस्थान / करौली / सजगता और सर्तकता बरतकर कोरोना संक्रमण को रोकने में निभाये भागीदारी-सीएमएचओ

सजगता और सर्तकता बरतकर कोरोना संक्रमण को रोकने में निभाये भागीदारी-सीएमएचओ

सजगता और सर्तकता बरतकर कोरोना संक्रमण को रोकने में निभाये भागीदारी-सीएमएचओ

जिले के बाहर से आने वालों की सूचना देकर करायें स्क्रीनिंग, आमजन घर पर रह कर करें सहयोग

करौली। वायरस संक्रमण से बचाव हेतु जागरूकता के लिए जिलेभर में घर-घर सम्पर्क अभियान चलाया जा रहा है। जिनमें आशा सहयोगिनी, एएनएम, आंगनवाडी कार्यकर्ता एवं जीएनएम व एएनएम प्रशिक्षणार्थियों को भी शामिल किया गया है लेकिन संक्रमण को आमजन के सहयोग से रोका जा सकता है। सीएमएचओ डाॅ. दिनेशंचद मीना ने आमजन से अपील की है कि संक्रमण की रोक हेतू घर पर ही रहें, बार-बार हाथ धोएंे तथा हाथों से अपने आंख, नाक व मुंह को न छूंऐं।

भीड़ वाले स्थान पर जाने से बचें 

सीएमएचओ ने बताया कोरोना वायरस रोकथाम हेतू सार्वजनिक स्थलों, रेलवे स्टेशन, बस स्टैण्ड व अन्य संस्थानों में आमजन को जागरूक किया जा रहा हैं। पंपलेट के माध्यम से लोगों को कोरोना वायरस से बचाव के लिये ‘‘क्या करना चाहिय और क्या नहीं करना चाहिए’’ यह बताया जा रहा है। सीएमएचओ ने बताया कि आशा सहयोगिनी व एएनएम ग्राम व शहरी वार्ड में गृह भ्रमण के लिये जाने के दौरान भी आमजन को कोरोना वायरस रोकथाम व नियंत्रण की जानकारी दे रही है।

सीएमएचओ ने बताया कि कोरोना वायरस के प्रति विभाग सावचेत है और इससे जागरूकता और यात्रियों की स्क्रीनिंग को लेकर पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं। उन्होंने बताया कि बाहर से आने वालों की सूचना देने एवं कोरोना के लक्षण पाए जाने पर लापरवाही नहीं बरते बल्कि उपचार के लिए तत्काल नजदीकी राजकीय चिकित्सालय में संपर्क करें या टोल फ्री नम्बर नेशनल कोल सेंटर 91-11-23978046,टोल फ्री हैल्पलाइन नंबर 104 व 108, स्टेट कंट्रोल रूम नंबर 0141-2225624 एवं विभागीय कंट्रोल रूम नं 7374009222 पर सम्पर्क कर सकते हैं।

इस दौरान क्या करें

1.अपनी व्यक्तिगत स्वच्छता का ध्यान दें।

2.नियमित रूप से साबुन से हाथ साफ करें- खांसने या छींकने के बाद, खाना बनाने से पहले एवं परोसने से पहले, खाना खाने से पहले, शौचालय के इस्तेमाल के बाद।

3.खांसने या छींकते समय नाक और मुंह को टिश्यु से ढकें। इस्तेमाल किये टिश्यु को कुड़ेदान में फेंके। 

4.अगर जुकाम या फ्लू के लक्षण हो बुखार, खांसी, और सांस लेने में तकलीफ तो चिकित्सक से सम्पर्क करें ।

क्या ना करें

1.खांसी व बुखार से पीड़ित लोगों से सम्पर्क न करें। यदि खांसी व बुखार है तो किसी के सम्पर्क में न आयें।

2.सार्वजनिक स्थानों पर नहीं थूकंे। अगर खांसी व जुकाम हो तो यात्रा करने से बचें।

3.जंगली व पालतू पशु पक्षियों के असुरक्षित सम्पर्क से बचें। 

4.भीड़भाड़ वाले स्थानों पर जाने से यथासंभव बचें। 

5.कोरोना वायरस की जानकारी के लिये टोल फ्री नम्बर पर काॅल कर जानकारी लेने से नहीं झिझके।

6.अफवाहों से डरने की जरूरत नहीं लेकिन सतर्क रहे।

About राजेन्द्र प्रसाद कुम्भकार

News reporter

Check Also

सामाजिक संगठनों ने राहगीरों एवं ग्रामीणों को कोरोना की सजगता के लिए किया जागरूक करौली

सामाजिक संगठनों ने राहगीरों एवं ग्रामीणों को कोरोना की सजगता के लिए किया जागरूक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *