Home / उत्तर प्रदेश / मथुरा / सहकारी बैंक की लापरवाही से दर-दर भटक रही है बीमा की लाभार्थी महिला |

सहकारी बैंक की लापरवाही से दर-दर भटक रही है बीमा की लाभार्थी महिला |

डेढ़ साल से नहीं मिली है फसल बीमा की धनराशि 

– जिला सहकारी बैंक की लापरवाही से दर-दर भटक रही है बीमा की लाभार्थी महिला 

बीओ गोवर्धन। गांव नीमगांव की रहने वाली महिला फसल बीमा की धनराशि के लिए डेढ़ साल से बैंक के चक्कर लगा रही है लेकिन पात्र महिला को बैंक प्रबंधन की लापरवाही के चलते धनराशि नहीं मिल रही है। उसने तहसील दिवस में शिकायत कर न्याय की गुहार लगाई है जबकि इससे पहले जिलाधिकारी को भी शिकायत कर चुकी है। तहसील दिवस में दी गई शिकायत में नीमगांव की रहने वाली सोमोती देवी ने बताया कि उसकी खरीफ की फसल नष्ट होने पर उसको फसल बीमा योजना में 70615/- रूपये की मुआवजा स्वीकृति हुआ। लेकिन उसके मुआवजे को जिला सहकारी बैंक गोवर्धन की शाखा प्रबंधन ने अन्य किसी व्यक्ति के खाते में डाल दिया। जब वह शिकायत करने पहुंची तो उल्टा लौटा दिया। इसके उसने अपनी शिकायत जिलाधिकारी मथुर से की तो बैंक प्रबंधन अपने बचाव में जिसके खाते में धनराशि स्वीकृति की उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर इतिश्री कर ली। लेकिन आज महिला को उसका मुआवजा नहीं मिला है। मंगलवार को उसने दूसरी बार तहसील दिवस में शिकायत की है। इस पर उपजिलाधिकारी राहुल यादव ने काॅपरेटिव एडीओ महावीर सिंह से तत्काल दोषी लोगों के खिलाफ कार्यवाही करने को कहा है। नहीं दोषी कर्मचारियों के वेतन से स्वीकृति धनराशि दिलाई जाये। वहीं पीड़िता सोमोती देवी का कहना है कि वह लगातार डेढ़ साल से चक्कर लगा रही है।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

गोवर्धन पुलिस द्वारा कस्बे में की गई चेकिंग किए वाहनों के चालान

गोवर्धन पुलिस द्वारा कस्बे में की गई चेकिंग किए वाहनों के चालान गोवर्धन , …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *