Breaking News
Home / राजस्थान / भीलवाड़ा / सांसद बहेड़िया ने किया ऑनलाइन संस्कृत संभाषण शिविर का उद्घाटन

सांसद बहेड़िया ने किया ऑनलाइन संस्कृत संभाषण शिविर का उद्घाटन

राष्ट्र का गौरव बढ़ाने वाली भाषा है संस्कृत- सांसद बहेड़िया

सांसद बहेड़िया ने किया ऑनलाइन संस्कृत संभाषण शिविर का उद्घाटन

शाहपुरा -(मूलचन्द पेसवानी)

संस्कृत भारती चित्तौड़ प्रांत की ओर से ऑनलाइन संस्कृत संभाषण शिविर का आयोजन किया गया। सांसद सुभाष बहेड़िया ने इस शिविर का उद्घाटन किया। इस शिविर में चित्तौड़ प्रांत क्षेत्र के संभागियों ने भाग लिया। 

शिविर का उद्घाटन करते हुए सांसद सुभाष बहेड़िया ने कहा कि दुनिया में भारतीय संस्कृति का जितना सम्मान है उतना अन्य किसी संस्कृति का नहीं क्योंकि भारतीय संस्कृति संस्कृत भाषा से निर्मित हुई है। जो व्यक्ति को सहज, सरल और संस्कारवान बनाती हैं इसीलिए दुनिया में भारतीय संस्कृति का डंका बजता है। संस्कृत भाषा ही है जो राष्ट्र का गौरव बढ़ाती हैं। आज पूरा विश्व भारत की ओर देख रहा है। भारतीय संस्कारों से विश्व अभिभूत हैं। जब तक इस देश में संस्कृत भाषा जिंदा है तब तक इस देश में संस्कार, संस्कृति जिंदा रहेगी। 

सांसद बहेड़िया ने कहा की संस्कृत आज की आवश्यकता है। हिंदू समाज के सभी धार्मिक कार्यक्रम संस्कृत से ही संपन्न होते हैं। विश्वकल्याण की बात संस्कृत में रचित वेदों में निहित है। इसलिए संस्कृत भाषा को फिर से राष्ट्रभाषा का सम्मान मिलना चाहिए। नई शिक्षा नीति 2020 में भी संस्कृत भाषा के सम्मान को ध्यान में रखा गया है। बहेड़िया ने संस्कृत भारती के प्रत्येक कार्य के लिए सहयोग के लिए तत्पर रहने की बात भी कही । 

संस्कृत भारती के प्रांत संगठन मंत्री देवेंद्र पंड्या ने इस अवसर पर कहा की आज संस्कृत भारती संस्कृत के प्रचार प्रसार के लिए निरंतर ऑनलाइन के माध्यम से लोगों तक पहुंच बना रही है। अब तक देश में हजारों शिविरों का आयोजन हो चुका है। जिसमें संस्कृत अनुरागियों ने संस्कृत सीखी।

विभाग संयोजक परमेश्वर प्रसाद कुमावत ने बताया कि शिविर के उद्घाटन सत्र में भीलवाड़ा सांसद सुभाष चन्द्र बहेड़िया का लोकसभा में संस्कृत भाषा में शपथ लेने पर अभिनंदन भी किया गया। इस अवसर पर संस्कृत संगीत संध्या का आयोजन किया गया जिसमें संस्कृत अनुरागियों ने संस्कृत भाषा में शानदार प्रस्तुतियां दी। कार्यक्रम का संचालन बारा जिला संयोजक पियूष गुप्ता ने किया। संस्कृत संगीत संध्या का संचालन प्रांत शिक्षण प्रमुख मधुसूदन शर्मा ने किया। कल्याण मंत्र अनिरुद्ध वैष्णव ने किया। संस्कृत संगीत संध्या में शाहपुरा महिला प्रमुखा पूजा गुर्जर, अंजू जांगिड़, मुरलीधर राव, कैलाश जांगिड़ ने अपनी प्रस्तुति दी। कार्यक्रम में भीलवाड़ा विभाग संयोजक परमेश्वर प्रसाद कुमावत, भीलवाड़ा महानगर संयोजक हनुमान शर्मा, शाहपुरा जिला संयोजक भगवान लाल गोस्वामी, कोटडी विकास खंड संयोजक रामेश्वर लाल रेगर, करेड़ा संयोजक हेमंत शर्मा, आसींद जिला संयोजक देवीलाल प्रजापत, सुनील सेन, धनराज गुर्जर,अभिषेक प्रजापति उपस्थित थे ।

Check Also

हाइवे पर गौवंश की सहायता व उपचार के लिए 50 मेडिकल किट का वितरण

हाइवे पर गौवंश की सहायता व उपचार के लिए 50 मेडिकल किट का वितरण शाहपुरा …