Home / राजस्थान / भीलवाड़ा / सेवानिवृत्ति के बाद भी सेवा देने को तैयार सब इंस्पेक्टर राजेन्द्र सिंह भीलवाडा

सेवानिवृत्ति के बाद भी सेवा देने को तैयार सब इंस्पेक्टर राजेन्द्र सिंह भीलवाडा

सेवानिवृत्ति के बाद भी सेवा देने को तैयार सब इंस्पेक्टर राजेन्द्र सिंह

पुलिस उपनिरीक्षक के जज्बे और हौंसले को सलाम

शाहपुरा- मूलचन्द पेसवानी 

निकटवर्ती जहाजपुर पुलिस थाने में पदस्थापित सब इंसपेक्टर राजेन्द्र सिंह ने 30 अप्रेल 20 को अपनी सेवानिवृति के बाद भी कोविड 19 महामारी को लेकर अपनी अवैतनिक सेवाएं पुलिस को देने का अनुरोध विभाग के उच्चाधिकारियों से किया है। उनका कहना है कि सेवानिवृति के बाद देश को कोविड से बचाना जरूरी है, ऐसे में वो अपनी सेवाएं देने को तैयार है।

कोरोना वायरस महामारी के इस संकट की घड़ी में 30 अप्रैल 2020 को सेवानिवृत्त हो रहे जहाजपुर थाने में तैनात सब इंसपेक्टर राजेंद्र सिंह सोलंकी ने देश हित में बिना वेतन के पुलिस सेवा देने की इच्छा जताई है। टोंक मूल के निवासी थानेदार सिंह सरल स्वभाव हंसमुख मिलनसार व्यक्तित्व के धनी अपने काम में निष्ठा रखने वाले राजेंद्र सिंह पुलिस अधीक्षक सहित डीजीपी को लिखे पत्र में सेवानिवृत्ति के बाद जब तक पुलिस विभाग चाहे जितने दिनों तक उनकी सेवा बिना वेतन के ले सकती है। 

उन्होंने पुलिस महानिदेशक, पुलिस महानिरीक्षक व भीलवाड़ा पुलिस अधीक्षक हरेन्द्र महावर को भी इस संदर्भ मे पत्र लिखकर इस संकट की घड़ी मे बिना वेतन के सेवा देने को लिखा है।

पुलिस विभाग मे सिंह कि प्रथम नियुक्ति 15 मई 1982 को कांस्टेबल के रूप में हुईं। सिंह की पहली पोस्टिंग के बरौनी थाने पर हूई। जुलाई 2018 से जहाजपुर थाने पर पदस्थापित होकर वर्तमान में लगातार अपनी राजकीय सेवा में निरंतर सेवाएं दे रहे हैं। सिंह की कार्यकुशलता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है की उनके कैरियर के दौरान इन्हें अब तक एक बार भी पुलिस लाइन में नहीं भेजा गया हैं।

अपनी कार्यशैली को लेकर सदैव हरफन मौला रहे राजेन्द्र सिंह का यों भी कहना है कि पुलिस सेवा में आये ही सेवा करने है तो फिर सेवा से मुंह क्यों मोड़ा जाए। हर ड्यूटी को वो अपनी टास्क मानकर हंसकर पूरा करते है। इस कारण कभी पुलिस लाइन में जाने का अवसर ही नहीं मिला। हलके में होने वाली हर घटना या अपराध का खुलासा सदा करते रहे इस कारण कभी भी जनता से भी परेशानी नहीं रही।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

भीलवाड़ा जिला कलेक्टर पहुंचे मृतकों के घर परिजनों को दी सांत्वना, सौंपे सीएम सहायता राशि के चेक

चित्तौड़गढ़-कोटा राष्ट्रीय राजमार्ग दुर्घटना भीलवाड़ा जिला कलेक्टर पहुंचे मृतकों के घर परिजनों को दी सांत्वना, …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *