Home / राजस्थान / भीलवाड़ा / हाइवे पर गौवंश की सहायता व उपचार के लिए 50 मेडिकल किट का वितरण

हाइवे पर गौवंश की सहायता व उपचार के लिए 50 मेडिकल किट का वितरण

हाइवे पर गौवंश की सहायता व उपचार के लिए 50 मेडिकल किट का वितरण

शाहपुरा -(मूलचन्द पेसवानी)

जिले के मोतीबोर का खेड़ा स्थित श्रीनवग्रह आश्रम के प्रकल्प नवग्रह गौदर्शन गौशाला प्रबंधन कमेटी की ओर से अनंत चतुदर्शी के मौके पर आज हाइवे पर विभिन्न स्थानों पर गौवंश की सहायता व उपचार के लिए 50 मेडिकल किट का वितरण किया गया है। प्रबंधक महिपाल चोधरी ने बताया कि हाइवे पर आये दिन होने वाले एक्सीडेंट में गौवंश के घायल होने पर उनको प्राथमिक उपचार न मिलने से होने वाली मौत के आंकड़ों को कम करने के लिए नवग्रह गौदर्शन गौशाला प्रबंधन की ओर से आज मेडिकल किट तैयार कर वितरित किये गये है। आज पहले दिन हरिपुरा चोराहा, निम्बाहेड़ा चोराहा, बेरा, बालेसरिया, जसवंतपुरा, के अलावा मांडल ब्यावर हाइवे व भीलवाड़ा अजमेर हाइवे पर करीब 50 स्थानों पर मेडिकल किट का वितरण कर वहां स्वंयसेवकों को तैयार कर दिया है। इन हाइवे पर कहीं पर भी कोई गौवंश की दुर्घटना होने की सूचना पर स्वयंसेवक मेडिकल कीट लेकर मौके पर पहुंच कर उनका प्राथमिक उपचार करेगें। महिपाल चोधरी ने बताया कि मेडिकल कीट में पशु चिकित्सक की अभिशंसा पर प्राथमिक उपचार के लिए पर्याप्त मात्रा में डेªसिंग पट्टी, गॉज, टिंचराई, सहित प्राथमिक उपचार की सभी आवश्यक दवाईयां व उपकरण रखे गये है। उनकी आपूर्ति भी समय समय पर नवग्रह गौदर्शन गौशाला प्रबंधन की ओर से की जायेगी। इस दौरान आज पहले दिन महिपाल चोधरी के साथ गौसेवा में लंबे समय से कार्य कर रहे देबीलाल मेघवंशी भी मौजूद रहे।

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

भीलवाड़ा जिला कलेक्टर पहुंचे मृतकों के घर परिजनों को दी सांत्वना, सौंपे सीएम सहायता राशि के चेक

चित्तौड़गढ़-कोटा राष्ट्रीय राजमार्ग दुर्घटना भीलवाड़ा जिला कलेक्टर पहुंचे मृतकों के घर परिजनों को दी सांत्वना, …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *