Breaking News
[uam_ad id="34152"]
Home / उत्तर प्रदेश / हापुड़ / हापुड़ जनपद में 36 घण्टे में तीन हत्या

हापुड़ जनपद में 36 घण्टे में तीन हत्या

हापुड़ उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश के जनपद हापुड़ ने नए एसपी संजीव सुमन के आगमन के बाद बदमाशों के हौंसले कितने बुलंद हैं इस बात का अंदाजा तीन दिन में  हुई तीन हत्याओं से लगाया जा सकता है। 

हापुड़ जनपद में 36 घण्टे में तीन हत्याओं से हापुड़ में हाहाकार मचा हुआ है। हापुड़ के थाना धौलाना के ब्रजनाथपुर गन्ना सेंटर पर गन्ना तोलने को लेकर हुए विवाद में पूर्व प्रधान पति संजय बाना को 2 गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया।

वहीं मृतक को बचाने आये मृतक के भतीजे व अन्य कई लोगों को भी डंडे मारकर घायल कर आरोपी मोके से फरार हो गए। 

म्रतक के भतीजे के अनुसार  गांव के ही आनंद नामक युवक से गन्ना तोल को लेकर हुआ था विवाद। 

दिन दहाड़े हुई इस हत्या की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुँची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जांच में जुट गई है ।

आपको बता दें संजय बाना जो कि पूर्व प्रधान पति है गन्ना लेकर थाना हाफिजपुर के ब्रजनाथपुर शुगर मिल के गन्ना सेंटर पर गए थे। 

बताया जा रहा है कि जब संजय बाना का गन्ना तोल का नंबर आया तो गांव के ही आनंद नाम के व्यक्ति से इनका विवाद हो गया।  

विवाद के बाद आनंद वहां से धमकी देकर चला गया और कुछ देर बाद अपने साथियों के साथ तमंचे व डंडे लेकर वापस आया व संजय बाना के दो गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया।

वही मौके पर बचाव में आए मृतक के भतीजे के सर में डंडे से कई वार कर घायल कर दिया वहां मौजूद अन्य लोगों ने भी जब इन लोगों को बचाने का प्रयास किया तो हमलावरों ने उनको भी डंडे मार कर घायल कर दिया।

घटना को अंजाम देकर हत्यारे मोके से फरार हो गए। 

मौके पर पहुंची पुलिस का वही रटारटाया जवाब दे रही है के जल्द ही हत्यारों को अरेस्ट कर लिया जायेगा। हांलकि दो दिन पहले थाना धौलाना के उदयरामपुर नगला में बेखौफ बदमाशों ने अधाधुंध फायरिंग कर दूल्हे के चाचा के सात गोलियां मारकर मौत के घाट उतार दिया था जिसके बाद फाइरिंग में  6 अन्य लोग भी घायल हुए हो गए थे मृतक के परिजनों द्वारा आरिपयों के नामजद एफआईआर के बाद भी पुलिस के हाथ अभी तक खाली है तो वहीं कल शादी समारोह में घुड़चडी के दौरान हर्ष फायरिंग में 17 वर्षीय एक युवती की मौत के मामले में भी नामजद एफआईआर के बाद भी पुलिस के हाथ अभी भी खाली है तो वही आज हुई हत्या के बाद भी बेखोफ आरोपी फरार हैं इन घटनाओं के बाद पुलिस कार्यप्रणाली पर भी सवालिया निशान लगा रहे है । 

लगातार तीन हत्याओं से क्षेत्र में दहशत का माहौल है लगातार हो रही इन घटनाओ से ऐसा प्रतीत होता है कि हापुड पुलिस का इकबाल फेल होता दिखाई दे रहा है जो एक गंभीर विस् है ।

Check Also

जनपद हापुड़ में लोकडाउन-5.0 में सुरु हुई बस सेवा-हापुड

रिपोर्ट – अनिल कश्यप लोकडाउन-5.0 में केंद्र सरकार के बस सेवा शुरू करने के निर्णय …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *