Home / उत्तराखंड / चमोली / हिमस्खलन के खतरे के बीच ग्लेशियरों को काट बदरीनाथ धाम तक सड़क दुरस्त करने में जुटी-बद्रीनाथ है बीआरओ

हिमस्खलन के खतरे के बीच ग्लेशियरों को काट बदरीनाथ धाम तक सड़क दुरस्त करने में जुटी-बद्रीनाथ है बीआरओ

हिमस्खलन के खतरे के बीच ग्लेशियरों को काट बदरीनाथ धाम तक सड़क दुरस्त करने में जुटी है बीआरओ

 बदरीनाथ, 

मौसम के बदले मिजाज के बीच बदरीनाथ धाम से लामबगड़ तक हाई वे दुरस्त करने में युधस्तर पर जुटी हुई है बीआरओ,इस बार हनुमान चट्टी से लेकर बदरीनाथ धाम तक हाई वे पर विशाल काय हिमखंड पसरे है,जिनको काट कर सड़क आवाजाही हेतु सुचारु करना BRO के लिए बड़ी चुनोती से कम नही है बदलते मौसम से हिमस्खलन का खतरा भी बीआरओ के जवानों को नही डिगा पा रहा है,अभी भी धाम में करीब 6फिट बर्फ मौजुद है,बदरीनाथ तक हाई वे से बर्फ के पहाड़ हटाने के लिए BRO की बर्फ काटने वाली आधा दर्जन बड़ी आधुनिक मशीनें,JCB,स्नो कटर कार्य कर रहे है, साथ ही बड़ी संख्या में मेंन पावर भी लगी हुई है,बता दें की 30अप्रैल 2020 को श्री बदरीनाथ धाम के कपाट गीष्मकाल के लिए खुलेंगे,इससे एक माह पूर्व इस हाई वे को दुरस्त करने की जिम्मेदारी बीआरओ के हाथो में होती है,

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

हंस फाउंडेशन दे रहा है जोशीमठ के सभी गांव में अपनी सेवा

हंस फाउंडेशन हेल्प एज संस्था आज से अपनी पूर्ण सेवा जोशीमठ के सभी गांव में …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *