Home / राजस्थान / 90 साल की बिदामी देवी ने 9 दिन में कोरोना की जंग से पाई आजादी

90 साल की बिदामी देवी ने 9 दिन में कोरोना की जंग से पाई आजादी

सफलता की कहानी

90 साल की बिदामी देवी ने 9 दिन में कोरोना की जंग से पाई आजादी

जयपुर,

17 अगस्त, 2020

सीकर जिला मुख्यालय पर स्थित पुरोहितजी की ढ़ाणी की 90 साल की बिदामी देवी ने 9 दिन में कोरोना की महामारी से जंग लड़कर आजादी पाई। सीकर के सांवली के कोविड सेंटर में डॉक्टरों ने जो भी दवाईयां बताई वह उन्होंने सावधानी बरतते हुए ली व सुबह-शाम अच्छी खुराक पर ध्यान दिया। कोविड सेंटर में नियमित रूप से टहलना जारी रखा और हर घंटे में हाथ अच्छी तरह से धोएं।

 बिदामी देवी ने बताया कि मैं 15-16 साल की थी, जब पहली बार देश ने आजादी का जश्न मनाया था । उस समय सोचा नहीं था कि जीवन में कभी ऎसा संकट आएगा, जब खुद को एक बार फिर आजादी के लिए संघर्ष करना पडे़गा। उन्होंने बताया कि जुलाई माह में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग ने मेरा सैम्पल लिया जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। उन्होंने कहा की मुझे अपने लिए कोई डर नहीं था, बस इस बात की चिंता थी कि मेरे परिवार के लोग स्वस्थ रहें।

बिदामी देवी बताती हैं कि उन्हें सांस लेने में तकलीफ होती थी, लेकन फिर भी मुहं पर हरदम मास्क लगाए रखा। उनकी 9 दिन बाद रिपोर्ट निगेटिव आई है और 27 जुलाई को वो स्वस्थ होकर घर पहुंच गइर्ं। घर पर आने के बाद उन्होंने 14 दिन तक खुद को परिजनों और रिश्तेदारों से दूर रखा ताकि किसी और तक ये बीमारी न पहुंचे। बिदामी देवी का कहना है कि कोरोना महामारी से बचाव के लिए मास्क का प्रयोग करें तथा अपने हाथ बार-बार धोते रहें, सावधानी ही उसका उपचार हैं। 

Support us

कोई भी मीडिया हो उन्हें कभी फंड की चिंता नहीं करनी पड़ती क्यूंकि लोकतंत्र को बचाने के नाम पर उन्हें विभिन्न स्रोतों से पैसा मिलता है। लेकिन हमें सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके समर्थन की आवश्यकता है। आपसे जितना हो सके हमें योगदान करें ताकि हम आपके लिए आवाज उठा सकें।

Donate with

Check Also

मनरेगा में 15 लाख से अधिक परिवारों को 100 दिन का रोजगार अवश्य दिलवायें – मुख्य सचिव

मनरेगा में 15 लाख से अधिक परिवारों को 100 दिन का रोजगार अवश्य दिलवायें …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *